click to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own textclick to generate your own text इस वेबसाइट को अपना मुखपृष्ठबनाए Advertise with us brajeshkdb@yahoo.com
   
 
  मिथिला मंच गृह
                            
<div style="background-color: none transparent;"><a href="http://www.rsspump.com/?web_widget/rss_ticker/news_widget" _fcksavedurl="http://www.rsspump.com/?web_widget/rss_ticker/news_widget" title="News Widget">News Widget</a></div> ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

हाल ही में जोरे गए विषयवस्तु--Recently Updates--बुझाउन बाबु के बेबाक बात~~~~मैथिली चित्र कथा--मिथिला ज़ायक़ा--मैथिली गीत--मिथिला पंचान्ग(व्रत-पर्व)--हाल ही में जोरे गए विषयवस्तु--Recently Updates--उठो जागो ना(एक गीत भ्रष्टाचार के खिलाफ)--मिथिला सिनेमा

         
           

                       मैथिली भाषा एक बिहारी भाषाओं के रूप में माना जाता है और यह भी एक हिंद आर्यन भाषा के रूप में माना जाता है. मैथिली भाषा उत्तर बिहार में मधुबनी, दरभंगा, सहरसा   जिलों के मुख्य रूप से प्रयोग किया जाता है. इसके अलावा, मैथिली नेपाल के Tarai क्षेत्र में बोली जाती है. हालांकि आधिकारिक संख्या अज्ञात है, लगभग 45 करोड़ लोग मैथिली बोलते हैं.  


                                    m               
                                                                        
कुछ लोगों का मानना है कि मैथिली हिंदी और बंगाली की एक बोली है. कुछ है कि यह एक अलग भाषा है. फिर भी यह 2003 में एक स्वतंत्र भाषा का दर्जा प्राप्त की.  देवनागरी मैथिली के लिए आज लिखने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. पहले यह Tirhuta, Mithilakshar, Kaithi लिपियों थे. इन लिपियों वही हैं और पूर्वी Nagri लिपि के रूप में वर्णित है और मैथिली की पारंपरिक स्क्रिप्ट हैं. यह एक प्राचीन लिपि बंगाली और असमिया के समान है. मैथिली ज्यादातर अप्रयुक्त हो गया है लोगों के प्रवास के कारण. भी, पटकथा अभी भी कुछ मंदिरों और पंडितों ने शादी के लिए निमंत्रण बाहर भेजने के लिए प्रयोग किया जाता है


मिथिला के सभी लोगो का इस वेब पृष्ठ पे स्वागत है , मिथिला क्षेत्र के सभी प्रकार के समाचार आप एक मात्र क्लीक से हमारे इस वेब पृष्ठ मिथिला मंच पर  पा सकते हैं , यह वेब पृष्ठ मिथिला क्षेत्र के  अंतर्गत आने वाले जिले मधुबनी, दरभंगा, मुज्ज़फरपुर और सीतामढ़ी के ताज़ा और मुख्य समाचारों को आप तक पंहुचता है ............... यंहा क्लिक करे 
 





mithilamanch.page.tl




Comments on this page:
Comment posted by wbzzfBof( itdwuwcufastmailtoyougo.site ), 03/19/2020 at 3:00am (UTC):
buy viagra cheap viagra <a href="https://www.dreammer.ru #">viagra generic </a> buy viagra viagra online

viagra pills viagra online <a href=http://mesjachnye.ru/>buy viagra </a> viagra 100mg viagra pills

Comment posted by Elldect( ellmopydaff.pw ), 10/10/2019 at 8:18pm (UTC):
Priligy Es Bueno <a href=http://4rxday.com>order cialis online</a> Amoxicillin 875mg Tablet Cialis Diario Argentina

Comment posted by VINOD MUKHIYA( vinodmukhiyaymail.com ), 02/24/2012 at 8:48pm (UTC):
Jai mithila aur jai maithil bhai je aee wavsaid banoulen dekh k mon khussi san jhuim uthal

Comment posted by Jitendra( ), 10/09/2011 at 3:23am (UTC):
Aih website main sirf maithali bhasha ke prayog karo

Comment posted by Shambhu Kumar Jha (Kumar Saim)( ), 10/03/2011 at 8:57am (UTC):
eh website hamra bahot neek lagal hom bahot khush bhelahu ki mithilla dham ke seho website chai aai website me hamra mithila ke bare me je Knowledge aai tak nai chale se sab bhetal or bahot neek lagal mithila ke mahima or mithila ke Shakti ke bare me padhi ke



Add comment to this page:
Your Name:
Your Email address:
Your message:

 
Facebook 'Like' Button
 
Advertisement
 
Show Your Appreciation Join Us
 
http://www.buttonshut.com
Advertise With Us
 
Advertise With Us
 
Website Owner Brajesh Kumar
 
Total, there have been 32906 visitors (73718 hits) on this page!
=> Do you also want a homepage for free? Then click here! <=